Santoshi mata | Santoshi mata ki Aarti [Hindi & English]

Santoshi Mata - संतोषी माता की आरती सबके मन को भाने वाली आरती है। यह आरती Santoshi mata के परम भक्तों के लिए बहुत मायने रखती है। जो व्यक्ति सच्चे मन से संतोषी माता की आरती का जाप करता है वो जीवन में हमेशा सफल होता है

इस आरती का जाप दिन में दो बार करते रहने से आपके जीवन में दिन दिन अपार खुशिया, सफलता तथा धन की प्राप्ति होती रहेंगी।

इस आरती के शब्द इतने मीठे है जिससे हर व्यक्ति को शांत रहने में मदद मिलती है तथा Santoshi mata ki aarti का जाप में स्वयं दिन में दो बार अवश्य करता हूँ यह संतोषी माता की आरती हमें शरीर से सम्पूर्ण पवित्र बनाने के लिए कारगर है।

अब आपके मन में विचार आ रहा होंगा की संतोषी माता की आरती कहा से प्राप्त करे तो आप किसी भी ब्राउज़र का उपयोग करके Shivjikiaarti.in सर्च करे जहाँ पर आपको संतोषी माता की आरती के साथ ही अन्य सभी देवी देवताओ की आरती, भजन, चालीसा, मंत्र एवं सभी जानकारी एकदम Free में प्राप्त कर सकते है

[ संतोषी माता की आरती ]


Santoshi mata ki aarti
Santoshi mata ki Aarti ( Hindi & English )


Santoshi Mata Aarti in Hindi


जय सन्तोषी माता, मैया सन्तोषी माता

अपने सेवक जन की, सुख सम्पत्ति दाता

जय सन्तोषी माता


जय सन्तोषी माता, मैया सन्तोषी माता

अपने सेवक जन की, सुख सम्पत्ति दाता

जय सन्तोषी माता


सुन्दर चीर सुनहरी माँ धारण कीन्हों

हीरा पन्ना दमके, तन श्रृंगार कीन्हों

जय सन्तोषी माता


गेरू लाल छटा छवि, बदन कमल सोहे

मन्द हंसत करुणामयी, त्रिभुवन मन मोहे

जय सन्तोषी माता


स्वर्ण सिंहासन बैठी, चंवर ढुरें प्यारे

धूप दीप मधुमेवा, भोग धरें न्यारे

जय सन्तोषी माता


गुड़ और चना परमप्रिय, तामे संतोष किये

सन्तोषी कहलाई, भक्तन वैभव दिये

जय सन्तोषी माता


शुक्रवार प्रिय मानत, आज दिवस सोही

भक्त मण्डली छाई, कथा सुनत मोही

जय सन्तोषी माता


मन्दिर जगमग ज्योति, मंगल ध्वनि छाई

विनय करें हम सेवक, चरनन सिर नाई

जय सन्तोषी माता


भक्ति भावमय पूजा, अंगीकृत कीजै

जो मन बसै हमारे, इच्छा फल दीजै

जय सन्तोषी माता


दुखी दरिद्री, रोगी, संकट मुक्त किये

बहु धन-धान्य भरे घर, सुख सौभाग्य दिये

जय सन्तोषी माता


ध्यान धरे जन तेरा, मनवांछित फल पायो

पूजा कथा श्रवण कर, घर आनन्द आयो

जय सन्तोषी माता


शरण गहे की लज्जा, राखियो जगदम्बे

संकट तू ही निवारे, दयामयी अम्बे

जय सन्तोषी माता


शुक्रवार प्रिय मानती, आज दिवस सोही

भक्त मण्डली छाई, कथा सुनत मोही

जय सन्तोषी माता


सन्तोषी माता की आरती, जो कोई जन गावे

ऋद्धि-सिद्धि, सुख-सम्पत्ति, जी भर के पावे

जय सन्तोषी माता


जय सन्तोषी माता, मैया सन्तोषी माता

अपने सेवक जन की, सुख सम्पत्ति दाता 

जय सन्तोषी माता


जय सन्तोषी माता, मैया सन्तोषी माता

अपने सेवक जन की, सुख सम्पत्ति दाता

जय सन्तोषी माता


  • संतोषी माता की आरती 
  • Santoshi mata
  • Santoshi mata ki aarti
  • Santoshi mata aarti
  • Santoshi mata aarti lyrics


Santoshi Mata ki aarti in photo

Santoshi Mata aarti lyrics
Santoshi Mata aarti lyrics


Santoshi Mata ki aarti in English( Santoshi Mata )


jay santoshee maata, maiya

santoshee maata

apane sevak jan kee, sukh sampatti daata

jay santoshee maata


jay santoshee maata, maiya

santoshee maata

apane sevak jan kee, sukh sampatti

daata

jay santoshee maata


sundar cheer sunaharee maan

dhaaran keenhon

heera panna damake, tan banaane

keenhon

jay santoshee maata


geroo laal chhata chhavi, badan

kamal sohe

mand hansat karunaamayee,

tribhuvan man mohe

jay santoshee maata


svarn sinhaasan baithee, chanvar

dhuren pyaare

dhoop deep madhumeva, bhog

darshanen nyaare

jay santoshee maata


graam aur chana paramer, taame

santosh kiya

santoshee kahalaee, bhaktan vaibhav

mein

jay santoshee maata


shukravaar priy maanat, aaj din

sohee

bhakt mandalee chhaee, katha sunat

mohee

jay santoshee maata


mandir jagamag jyoti, mangal dhvani

chhaee

vinay karen ham sevak, charan sir

naee

jay santoshee maata


bhakti bhaavamay pooja, angeekrt

keejai

jo man basai hamaara, ichchha phal

deejai

jay santoshee maata


dhyaan dhare jan tera, manavantar

phal phal paayo

pooja katha shravan kar, ghar aanand aayo 

jay santoshee maata


sharan sange kee laaj, jalao

jagadambe

sankat too hee nivaare, dayaamayee

ambe

jay santoshee maata


shukravaar priy maanatee,

aaj din sohee

bhakt mandalee chhaee, katha sunat

mohee

jay santoshee maata


santoshee maata kee aaratee, jo

koee jan gaave

rddhi-siddhi, sukh-sampatti, jee bhar

ke paave

jay santoshee maata 


jay santoshee maata, maiya

santoshee maata

apane sevak jan kee, sukh sampatti

daata

jay santoshee maata


jay santoshee maata, maiya

santoshee maata

apane sevak jan kee, sukh sampatti

daata

jay santoshee maata


  • Santoshi mata
  • Santoshi mata ki aarti
  • Santoshi mata aarti
  • Santoshi mata aarti lyrics
  • Santoshi mata ki Aarti
  • Santoshi mata aarti lyrics
  • Santoshi mata aarti Video


Santoshi Mata ki aarti in Video ( Full HD )






Take A Heaven Ride With Best Below Links -

Final Words on This Post - 

आपका दिल बहुत निर्मल है अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप जरूर Comment करके या हमारी पोस्ट को अन्य लोगो तक Share करके हमें बता सकते है |

में आपके लिए ऐसी ही नयी नयी पोस्ट रोज लाता रहता हूँ आप www.shivjikiaarti.in जाकर हमारी साइट की अन्य पोस्ट भी पड सकते है | यह अन्य पोस्ट आपके जीवन की कही सारी कठिनाइयों को दूर करेंगी तथा आपके हर्दय को और भी पवित्र बनाएगी | 

Get More Updates on Shivjikiaarti.in

0 Comments

एक टिप्पणी भेजें