ॐ जय जगदीश हरे | Om Jai Jagdish hare | Vishnu ji ki Aarti | Om Jai Jagdish hare Lyrics [Hindi & English]

Om Jai Jagdish hare - विष्णु जी की आरती सबके मन को भाने वाली आरती है। यह आरती Vishnu Ji के परम भक्तों के लिए बहुत मायने रखती है। जो व्यक्ति सच्चे मन से विष्णु जी की आरती का जाप करता है वो जीवन में हमेशा सफल होता है

इस आरती का जाप दिन में दो बार करते रहने से आपके जीवन में दिन दिन अपार खुशियाँ, सफलता तथा धन की प्राप्ति होती रहेंगी।

इस आरती के शब्द इतने मीठे है जिससे हर व्यक्ति को शांत रहने में मदद मिलती है तथा Vishnu ji ki Aarti (Om Jai Jagdish hare Lyrics) का जाप में स्वयं दिन में दो बार अवश्य करता हूँ यह विष्णु जी की आरती हमें शरीर से सम्पूर्ण पवित्र बनाने के लिए कारगर है।

Vishnu Ji -

भगवान विष्णु तीनो लोकों के सर्व शक्तिशाली देवता हैं विष्णु भगवान के अनेक रूपों ने धरती पर जन्म लिया और बुराई तथा राक्षसों का सर्वनाश किया विष्णु जी के मुख्य रूप - भगवान कृष्ण, भगवान राम, रामदेवजी, नागदेवता आदि रूप हैं विष्णु देव की सवारी नाग तथा कछुहा हैं साथ ही साथ इनका शस्त्र चक्र हैं विष्णु  जी की आरती ॐ जय जगदीश हरे का उच्चारण करने से अत्यधिक धन की प्राप्ति होती है इसलिए इनकी आरती का जाप रोज़ करना चाहिए     

अब आपके मन में विचार आ रहा होंगा की Om jai jagdish hare Aarti कहा से प्राप्त करे तो आप किसी भी ब्राउज़र का उपयोग करके Shivjikiaarti.in सर्च करे जहाँ पर आपको Om jai jagdish hare Aarti सहित कही सारे देवी देवताओ की आरती, भजन, चालीसा, मंत्र एवं सभी जानकारी एकदम Free में प्राप्त कर सकते है

[ विष्णु जी की आरती ]


Om Jai Jagdish hare

Vishnu Aarti in Hindi


ॐ जय जगदीश हरे
स्वामी जय जगदीश हरे
भक्त जनों के संकट
दास जनों के संकट
क्षण में दूर करे
ॐ जय जगदीश हरे 
||

ॐ जय जगदीश हरे
स्वामी जय जगदीश हरे
भक्त जनों के संकट
दास जनों के संकट
क्षण में दूर करे
ॐ जय जगदीश हरे 
||

जो ध्यावे फल पावे
दुःख बिनसे मन का
स्वामी दुःख बिनसे मन का
सुख सम्पति घर आवे
सुख सम्पति घर आवे
कष्ट मिटे तन का
ॐ जय जगदीश हरे 
||

मात पिता तुम मेरे
शरण गहूं किसकी
स्वामी शरण गहूं मैं किसकी
तुम बिन और न दूजा
तुम बिन और न दूजा
आस करूँ मैं जिसकी
ॐ जय जगदीश हरे 
||

तुम पूरण परमात्मा
तुम अन्तर्यामी
स्वामी तुम अन्तर्यामी
पारमब्रह्म परमेश्वर
पारमब्रह्म परमेश्वर
तुम सब के स्वामी
ॐ जय जगदीश हरे

तुम करुणा के सागर
तुम पालनकर्ता
स्वामी तुम पालनकर्ता
मैं मुरख फलकामी
मैं सेवक तुम स्वामी
कृपा करो भर्ता
ॐ जय जगदीश हरे 
||

तुम हो एक अगोचर
सबके प्राणपति
स्वामी सबके प्राणपति
किस विधि मिलूं दयामय
किस विधि मिलूं दयामय
तुमको मैं कुमति
ॐ जय जगदीश हरे 
||

दीन-बंधू दुःख हर्ता
ठाकुर तुम मेरे
स्वामी रक्षक तुम मेरे
अपने हाथ उठाओ
अपनी शरण लगाओ
द्वार पड़ा तेरे
ॐ जय जगदीश हरे 
||

विषय-विकार मिटाओ
पाप हरो देवा
स्वामी पाप हरो देवा
श्रद्धा भक्ति बढाओ
श्रद्धा भक्ति बढाओ
सन्तन की सेवा
ॐ जय जगदीश हरे 
||

ॐ जय जगदीश हरे
स्वामी जय जगदीश हरे
भक्त जनों के संकट
दास जनों के संकट
क्षण में दूर करे
ॐ जय जगदीश हरे ||

ॐ जय जगदीश हरे
स्वामी जय जगदीश हरे
भक्त जनों के संकट
दास जनों के संकट
क्षण में दूर करे
ॐ जय जगदीश हरे 
||


  • Om Jai Jagdish hare Aarti
  • Vishnu Ji ki aarti
  • Om Jai Jagdish hare aarti in hindi
  • Om Jai Jagdish hare aarti lyrics
  • Om Jai Jagdish hare Aarti in english
  • Om Jai Jagdish hare aarti download
  • Om Jai Jagdish hare aarti Video
  • Om Jai Jagdish hare ringtone
  • Om Jai Jagdish hare song


Om Jai Jagdish hare Aarti in photo


Om Jai Jagdish hare
Part - 1
Om Jai Jagdish hare
Part - 2


Om Jai Jagdish hare Aarti in English ( Aarti Vishnu Ji ki )


Om Jai Jagdish Hare
Swami Jai Jagdish Hare
Bhakt Jano Ke Sankat
Daas Jano Ke Sankat
Kshan Me Door Kare
Om Jai Jagdish Hare 
||

Om Jai Jagdish Hare
Swami Jai Jagdish Hare
Bhakt Jano Ke Sankat
Daas Jano Ke Sankat
Kshan Me Door Kare
Om Jai Jagdish Hare 
||

Jo Dhyave Phal Paave
Dukh Binse Man Ka
Swami Dukh Binse Man Ka
Sukh Sampati Ghar Aave
Sukh Sampati Ghar Aave
Kasht Mite Tan Ka
Om Jai Jagdish Hare 
||

Maat Pita Tum Mere
Sharan Gahun Kiski
Swami Sharan Gahun Kiski
Tum Bin Aur Na Duja
Tum Bin Aur Na Duja
Aas Karun Main Jiski
Om Jai Jagdish Hare 
||

Tum Puran Parmatma
Tum Antaryami
Swami Tum Antaryami
Parmbrahma Parmeshwar
Parmbrahma Parmeshwar
Tum Sab Ke Swami
Om Jai Jagdish Hare 
||

Tum Karuna Ke Sagar
Tum Palankarta
Swami Tum Palankarta
Main Murakh Phalkami
Main Sevak Sum Swami
Kripa Karo Bharta
Om Jai Jagdish Hare 
||

Tum Ho Ek Agochar
Sabke Pranpati
Swami Sabke Pranpati
Kis Vidhi Milun Dyamay
Kis Vidhi Milun Dyamay
Tumko Main Kumti
Om Jai Jagdish Hare 
||

Deen-Bandhu Dukh-Harta
Thakur Tum Mere
Swami Rakshk Tum Mere
Apne Hath Uthao
Apni Sharn Lagao
Dwar Pada Tere
Om Jai Jagdish Hare 
||

Vishay-Vikaar Mitao
Paap Haro Deva
Swami Paap Haro Deva
Shraddha Bhakti Badao
Shraddha Bhakti Badao
Santan Ki Seva
Om Jai Jagdish Hare 
||

Om Jai Jagdish Hare
Swami Jai Jagdish Hare
Bhakt Jano Ke Sankat
Daas Jano Ke Sankat
Kshan Me Door Kare
Om Jai Jagdish Hare 
||

Om Jai Jagdish Hare
Swami Jai Jagdish Hare
Bhakt Jano Ke Sankat
Daas Jano Ke Sankat
Kshan Me Door Kare
Om Jai Jagdish Hare 
||


  • Om Jai Jagdish hare Aarti
  • Vishnu Ji ki aarti
  • Om Jai Jagdish hare aarti in hindi
  • Om Jai Jagdish hare aarti lyrics
  • Om Jai Jagdish hare Aarti in english
  • Om Jai Jagdish hare aarti download
  • Om Jai Jagdish hare aarti Video
  • Om Jai Jagdish hare ringtone
  • Om Jai Jagdish hare song


Om Jai Jagdish hare Aarti in Video ( Full HD )






Take A Heaven Ride With Best Below Links -

Final Words on This Post - 

विष्णु जी के परम भक्तों आपका दिल बहुत निर्मल है अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप जरूर Comment करके या हमारी पोस्ट को अन्य लोगो तक Share करके हमें बता सकते है 

में आपके लिए ऐसी ही नयी नयी पोस्ट रोज लाता रहता हूँ आप www.shivjikiaarti.in जाकर हमारी साइट की अन्य पोस्ट भी पड सकते है यह अन्य पोस्ट आपके जीवन की कही सारी कठिनाइयों को दूर करेंगी तथा आपके हर्दय को और भी पवित्र बनाएगी  

Get More Updates on Shivjikiaarti.in

0 Comments

एक टिप्पणी भेजें