शिव आरती | Shiv Aarti | Shivji ki Aarti [Hindi & English]

Shiv Aarti - शिवजी की आरती सबके मन को भाने वाली आरती है। यह आरती Lord Shiv के परम भक्तों के लिए बहुत मायने रखती है। जो व्यक्ति सच्चे मन से शिवजी की आरती का जाप करता है वो जीवन में हमेशा सफल होता है

इस आरती का जाप दिन में दो बार करते रहने से आपके जीवन में दिन दिन अपार खुशियाँ, सफलता तथा धन की प्राप्ति होती रहेंगी।

इस शिव आरती के शब्द इतने मीठे है जिससे हर व्यक्ति को शांत रहने में मदद मिलती है तथा Shiv Aarti (Shiv Aarti Lyrics) का जाप में स्वयं दिन में दो बार अवश्य करता हूँ यह शिवजी की आरती हमें शरीर से सम्पूर्ण पवित्र बनाने के लिए कारगर है।

Shiv Ji -

शिवजी को कही सारे नामो से जाना जाता है जैसे - महाकाल, महादेव, नीलकंठ, शंकर आदि सबसे महत्वपूर्ण बात इनके तीन + नेत्र = त्रिनेत्र धारी भी कहते हैं ये त्रिदेवो में से एक देवता शंकर भी है माना जाता है ब्रम्हाण्ड पैर सबसे पहले इन्होने ही जन्म लिया हैं महाकाल हिन्दू धर्म के प्रथम देवता माने जाते हैं शिव को शिवलिंग के द्वारा भी पूजा जाता हैं साथ ही साथ शिव आरती का उच्चारण करने से शंकर अत्यंत प्रशन्न होते है भगवान शिव संपूर्ण ब्रह्मांड और सनातन धर्म (हिंदू धर्म) के सर्वोच्च देवता हैं। वह हिंदू धर्म की प्रसिद्ध त्रिमूर्ति में से एक है; ब्रह्मा, विष्णु और महेश (शिव)। सनातन धर्म के अनुसार, त्रिमूर्ति, ब्रह्मा-विष्णु-शिव, क्रमशः दुनिया के निर्माण, संरक्षण और विनाश के लिए जिम्मेदार हैं।

शिव शुभता के प्रतीक हैं, क्योंकि वे ही हैं जो बुराई का नाश करते हैं और दुखों को इस दुनिया से दूर कर देते हैं। इसलिए, यह माना जाता है कि बुराइयाँ और शिव एक साथ मौजूद नहीं हो सकते हैं भगवान निवास करते हैं, वहाँ उनके आसपास नकारात्मकता और दुष्टता के लिए कोई जगह नहीं है।

भगवान शिव, जिन्हें संसार के संहारक के रूप में जाना जाता है, वे सर्वशक्तिमान और सर्वव्यापी हैं। ब्रह्माण्ड में विनाश  दृष्टि के लिए प्रथम शिव जिम्मेदार है। और इस तरह अंत सभी शुरुआतओं का एक अभिन्न हिस्सा है, शिव इस ब्रह्मांड को उसकी उत्पत्ति में वापस लाने के लिए जिम्मेदार हैं।

शिव को गंगा नदी के साथ एक काले-चमड़ी वाले तपस्वी के रूप में चित्रित किया गया है जो अपने उलझे हुए बालों से बाहर निकलते हैं और उनकी गर्दन के चारों ओर एक नाग रहता है। वह एक हाथ में त्रिशूल लेकर चलता है और उसके सारे शरीर पर राख लग जाती है। वह अपने परिवार (परिवार) के साथ कैलासा पर्वत पर रहता है। उनके परिवार में पार्वती, पुत्र गणेश और कार्तिकेय, वाहन नंदी और अन्य गण (सैनिक) शामिल हैं।

अब आपके मन में विचार आ रहा होंगा की Shiv Aarti कहा से प्राप्त करे तो आप किसी भी ब्राउज़र का उपयोग करके Shivjikiaarti.in सर्च करे जहाँ पर आपको Shiv Aarti सहित कही सारे देवी देवताओ की आरती, भजन, चालीसा, मंत्र एवं सभी जानकारी एकदम Free में प्राप्त कर सकते है

[ शिव जी की आरती ]

Shiv Aarti
Best Shiv Aarti

Shiv Aarti in Hindi

जय शिव ओंकारा हर,
शिव ओंकारा |

ब्रह्मा विष्णु सदाशिव अद्धांगी धारा॥ 
जय शिव ओंकारा ॥

एकानन चतुरानन पंचांनन राजे |
हंसासंन, गरुड़ासन, वृषवाहन साजे॥
जय शिव ओंकारा ॥

दोभुज चारु चतुर्भज दस भुज अति सोहें
तीनों रूप निरखता त्रिभुवन जन मोहें॥
जय शिव ओंकारा ॥

अक्षमाला, बनमाला, रुण्ड़मालाधारी |
चंदन, मृदमग सोहें, भाले शशिधारी॥
जय शिव ओंकारा ॥

श्वेताम्बर,पीताम्बर, बाघाम्बर अंगें |
सनकादिक, ब्रह्मादिक, भूतादिक संगें॥
जय शिव ओंकारा ॥

कर के मध्य कमड़ंल चक्र, त्रिशूल धरता |
जगकर्ता, जगभर्ता, जगससंहारकर्ता॥
जय शिव ओंकारा ॥

ब्रह्मा विष्णु सदाशिव जानत अविवेका |
प्रवणाक्षर मध्यें ये तीनों एका॥
जय शिव ओंकारा ॥

काशी में विश्वनाथ विराजत नन्दी ब्रम्हचारी |
नित उठी भोग लगावत महिमा अतिभारी॥
जय शिव ओंकारा ॥

त्रिगुण शिवजी की आरती जो कोई नर गावें
कहत शिवा-नंद स्वामी मनवांछित फल पावें॥
जय शिव ओंकारा ॥

जय शिव ओंकारा हर ॐ शिव ओंकारा|
ब्रह्मा विष्णु सदाशिव अद्धांगी धारा॥
जय शिव ओंकारा ॥


  • Shiv Aarti
  • Shiv Ji ki aarti
  • Shiv Chalisa
  • Shiv aarti lyrics
  • Shiv tandav
  • Shiv aarti download
  • Shiv aarti Video
  • Shiv Aarti sangrah
  • Shiv tandav lyrics

Shiv Aarti in photo

shiv aarti
Shiv aarti Lyrics

Shivji Ki Aarti in Hindi

Shivji ki Aarti
Shiv Aarti lyrics


Shiv Aarti in English ( Shiv ji ki Aarti )


jay shiv omkara har,

shiv omkara |


brahma vishnu sadaashiv addhaangee dhaara. 

jay shiv omkara .


ekaanan chaturaanan panchaannan raaje |

hansaasann, garudaasan, vrshavaahan saaje.

jay shiv omkara .


dobhuj chaaru chaturbhaj das bhuj ati sohen

teenon roop nirakhata tribhuvan jan mohen.

jay shiv omkara .


akshamaala, banamaala, rundamaalaadhaaree |

chandan, mrdamag sohen, bhaale shashidhaaree.

jay shiv omkara ॥


shvetaambar,peetaambar, baaghaambar angen |

sanakaadik, brahmaadik, bhootaadik sangen.

jay shiv omkara .


kar ke madhy kamadanl chakr, trishool dharata |

jagakarta, jagabharta, jagasasanhaarakarta.

jay shiv omkara .


brahma vishnu sadaashiv jaanat aviveka |

pravanaakshar madhyen ye teenon eka.

jay shiv omkara .


kaashee mein vishvanaath viraajat nandee bramhachaaree |

nit uthee bhog lagaavat mahima atibhaaree.

jay shiv omkara ॥


trigun shivajee kee aaratee jo koee nar gaaven

kahat shiva-nand svaamee manavaanchhit phal paaven.

jay shiv omkara .


jay shiv omkara har om shiv omkara|

brahma vishnu sadaashiv addhaangee dhaara.

jay shiv omkara ॥


  • Shiv Aarti
  • Shiv Ji ki aarti
  • Shiv Chalisa
  • Shiv aarti lyrics
  • Shiv tandav
  • Shiv aarti download
  • Shiv aarti Video
  • Shiv Aarti sangrah
  • Shiv tandav lyrics

shiv aarti lyrics


Shiv Aarti in Video ( Full HD )






Take A Heaven Ride With Best Below Links -

Final Words on This Post - 

शिवजी के परम भक्तों आपका दिल बहुत निर्मल है अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप जरूर Comment करके या हमारी पोस्ट को अन्य लोगो तक Share करके हमें बता सकते है 

में आपके लिए ऐसी ही नयी नयी पोस्ट रोज लाता रहता हूँ आप www.shivjikiaarti.in जाकर हमारी साइट की अन्य पोस्ट भी पड सकते है यह अन्य पोस्ट आपके जीवन की कही सारी कठिनाइयों को दूर करेंगी तथा आपके हर्दय को और भी पवित्र बनाएगी  

Get More Updates on Shivjikiaarti.in

1 टिप्पणी


EmoticonEmoticon